बिजली संग्रह के लिए अमेरिकी कंपनी को न्योता: कमलनाथ

0
13

भोपाल। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने विधानसभा में गुरुवार को प्रदेश के लिए अपना दृष्टिकोण रखा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपार संभावनाएं हैं। नौजवानों के भविष्य के लिए रोजगार के मौके पैदा करने होंगे। इसके लिए औद्योगिकिकरण को बढ़ावा देना होगा। बिजली की उपलब्धता है पर इसे स्टोर करने का कोई साधन नहीं है।

उनके अनुसार बिजली स्टोरेज के क्षेत्र में बड़ी संभावना है। चीन में इस पर काफ ी काम हुआ है। वहां इस काम का दुनिया में पहली बार प्रयोग करने वाली अमेरिकी कंपनी को मध्यप्रदेश आने का न्योता दिया है। हम प्रदेश को देश का बिजली स्टोरेज केंद्र बनाने की ओर आगे बढ़ रहे हैं।

मध्यप्रदेश को एआई का केंद्र बनाएंगे

युवाओं को कौशल का प्रशिक्षण देने पर कहा हम ऐसा प्रशिक्षण चाहते हैं जो 80 से 100 फ ीसदी रोजगार दे। आईटी रोजगार का बड़ा क्षेत्र है जो लगातार अपडेट हो रहा है। हमने यह तय किया है कि हम प्रदेश को आर्टिफि शियल इंटेलीजेंस का केंद्र बनाएंगे। गुरुवार सुबह ही टाटा कंसल्टेंसी के अध्यक्ष से बात हुई।

हर जिले में औद्योगिकीकरण होना चाहिए

निवेश नीति को हमें नया मोड़ देना होगा। हर जिले में औद्योगिकीकरण होना चाहिए। इसके लिए निवेश चाहिए और यह भरोसे से आएगा। अभी सरकार को साढ़े तीन माह ही काम के लिए मिले हैं। पिछले 15 साल की तुलना करें तो कितना घरेलू और विदेशी निवेश देश में आया और उसका कितना प्रतिशत मध्यप्रदेश में आया, यह देखने की जरूरत है।

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने मुख्यमंत्री के नजरिए की तारीफ  की और कहा कि इसको लेकर दृष्टिपत्र लाएं। बड़े उद्योगों की जगह सूक्ष्म और लघु उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए तो ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा। निवेश के लिए सिंगल विंडो सिस्टम शुरू किया था, उसकी एक बार समीक्षा करवा लें।

उद्योगपति बोले थे, आप बस पटवारी से बचवा दीजिए

मुख्यमंत्री ने मौजूदा व्यवस्था पर कटाक्ष करते हुए कहा कि एक उद्योगपति मेरे पास आए थे। मैंने उनसे पूछा कि सब ठीक चल रहा है कोई दिक्कत तो नहीं। उन्होंने कहा कि कलेक्टर और अधिकारी बहुत अच्छे हैं, बस हमें पटवारी से बचवा दीजिए। वे पटवारी से दुखी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here